SAD SHAYARI – ना समझो कि हम आपको भुला भी सकेंगे

ना समझो कि हम आपको भुला भी सकेंगे।
कब्र होगी मेरी पर वहां आप ही मिलेंगे
देख ना ले आपको कोई हमारी आँखों मे दूर से।
इसी लिए वहां भी हम पलकें झुका के रखेंगे।

Sad Shayari - Na samjho ki hum aapko bhula bhi sakenge

बनके अजनबी मिले है ज़िंदगी के सफर में
इन यादों को हम मिटायेंगे नहीं
अगर याद करना फितरत है आपकी
तो वादा है हम भी आपको भुलायेंगे नहीं ।।

Sad Shayari - Banke Ajnabi mile hain zindagi ke safar main

सोचा ही नहीं था जिंदगी में ऐसे भी फ़साने होंगे
रोना भी जरूरी होगा और आंसू भी छिपाने होंगे

Sad Shayari - Socha hi nahin tha jindagi main aise bhi fasane honge

पाने से खोने का मज़ा कुछ और है
बंद आँखों से सोने का मज़ा कुछ और है
आँसू बने लफ़ज़ और लफ़ज़ बनी जुबा
इस ग़ज़ल में किसी के होने का मज़ा कुछ और है

Sad Shayari - Pane se khone ka maza kuch aur hai

सांसो का पिंजड़ा किसी दिन टूट जायेगा |
ये मुसाफ़िर किसी राह में छूट जायेगा ||
अभी जिन्दा हूँ तो बात कर लिया करो ।
क्या पता कब हमसे ख़ुदा रूठ जायेगा ||

Sad Shayari - Saanson ka pinjada kisi din toot Jayega

एक दिन मेरी आँखों ने भी थक कर मुझसे कह दिया
ख़्वाब वो देखा करो जो पूरे हों, रोज़ रोज़ हमसे भी रोया नहीं जाता

Spread the love

Leave a Reply

Close Menu