जाती नहीं आंखों से सूरत आपकी

जाती नहीं आंखों से सूरत आपकी

“जाती नहीं आंखों से सूरत आपकी
जाती नहीं दिल से मोहब्बत आपकी, 
महसूस ये होने लगा है अब… 
जीने के लिए पहले से ज्यादा जरूरत है आपकी “

Love Shayari - Jati nahin aakhon se surat aapki

आईना देखोगे तो मेरी याद आएगी
साथ गुज़री वो मुलाकात याद आएगी
पल भर क लिए वक़्त ठहर जाएगा,
जब आपको मेरी कोई बात याद आएगी

Love Shayari - Aaina dekhoge to meri yaad aayegi

“मेरी सांसो पर नाम बस तुम्हारा है…मैं अगर खुश हूं तो ये एहसान तुम्हारा है।”

Love Shayari - Meri saanso par naam bas tumhara hai

“मेरी मोहब्बत है वो कोई मज़बूरी तो नही,
वो मुझे चाहे ये ज़रुरी तो नही…!
ये कुछ कम है कि बसी है मेरी साँसों में वो,
सामने हो मेरी आँखों के जरूरी तो नही…!!

Love Shayari - Meri mohabbat hai vo koi meri majbooori to nahin

संभाले नहीं संभलता है दिल, अपनी मोहब्बत की तपिश से न जला…!
इश्क तलबगार है तेरा चली आ, अब ज़माने का बहाना न बना….!!

Love Shayari - Sambhale nahin sambhalta hai dil
Spread the love

Leave a Reply

Close Menu